राजस्थान में नीट के 'पेपर' दिलाने का झांसा देकर वसूली करने वाले गिरोह ने ऐसे गायब कर दिए सबूत

Patrika news network Posted: 2017-05-14 12:34:00 IST Updated: 2017-05-14 20:17:35 IST
राजस्थान में नीट के 'पेपर' दिलाने का झांसा देकर वसूली करने वाले गिरोह ने ऐसे गायब कर दिए सबूत
  • आतंकवाद निरोधक दस्ते ने राजधानी में मास्टर माइंड उमाशंकर को लिया दो दिन के रिमांड पर। गिरोह की कडि़यां खुल रही हैं...

जयपुर.

आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) को नीट के फर्जी पेपर का झांसा देकर वसूली करने वाले गिरोह के मास्टरमाइंड उमाशंकर को दो दिन का रिमांड मिला है। आरोपित से पूछताछ में कई एेसे चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं, जिससे गिरोह की कडि़यां जुड़ सकती हैं।


2 करोड़ के मिले चेक, सबूत हुए गायब!

इधर, आरोपित से पूछताछ और जब्त दस्तावेज से कई अहम सुराग हाथ लगे हैं, जिनसे गिरोह के देशभर में फैले नेटवर्क व उनके जाल में फंसे लोगों के बारे में जानकारी मिली है। गिरोह के बारे में कई और पीडि़तों ने एटीएस अधिकारियों से जानकारी ली है।


Read: एटीएस की टीम दिल्ली पहुंची, लाखों रुपयों के चेक और मार्कशीट बरामद, 3 जगहों पर मारे छापे

आशंका कि एटीएस को उमाशंकर के घर से दर्जनों ऐसे चेक मिले हैं, जिन पर लाखों की रकम भरी हुई है। ये चेक अलग-अलग लोग और फर्मों के हैं।


नीट के फर्जी पेपर का झांसा देकर वसूली

कुल मिलाकर चेक में दो करोड़ रुपए की रकम भरी हुई है। इसके साथ ही उसके पास से कुछ एेसे दस्तावेज भी मिले हैं, जो अभ्यर्थियों और उनके परिजनों के हैं। सूत्रों के मुताबिक, फरारी के दौरान उमाशंकर ने अपने कार्यालय से तमाम सबूत इधर-उधर कर दिए हैं। जिसमें कम्प्यूटर का डेटा भी गायब मिला है। गिरोह सैकड़ों लोगों का एनआरआई सीट पर कमीशन लेकर दाखिला करा चुका है।


Read: नीट परीक्षा से 1 दिन पहले जयपुर में हल कराया गया था पेपर, अभी तक यह मालूम नहीं कि आया कहां से

rajasthanpatrika.com

Bollywood