Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

कांग्रेस बगैर नेता वाली पार्टी आैर नीतीश बगैर पार्टी वाले नेता, बना देना चाहिए कांग्रेस अध्यक्षः रामचंद्र गुहा

Patrika news network Posted: 2017-07-14 08:54:01 IST Updated: 2017-07-14 08:54:01 IST
कांग्रेस बगैर नेता वाली पार्टी आैर नीतीश बगैर पार्टी वाले नेता, बना देना चाहिए कांग्रेस अध्यक्षः रामचंद्र गुहा
  • नीतीश कुमार को कांग्रेस का अध्यक्ष बना दिया जाना चाहिए। यह कहना है जाने माने इतिहासकार आैर लेखक रामचन्द्र गुहा का।

नर्इ दिल्ली।

नीतीश कुमार को कांग्रेस का अध्यक्ष बना दिया जाना चाहिए। कांग्रेस आैर उनका साथ जन्नत में बनी जोड़ी की तरह होगा। कांग्रेस बगैर नेता वाली पार्टी है आैर नीतीश बगैर पार्टी वाले नेता। यह कहना है जाने माने इतिहासकार आैर लेखक रामचन्द्र गुहा का।

रामचन्द्र गुहा ने एक कार्यक्रम के दौरान 'नीतीश कुमार की विचारधारा पसंद है या नहीं ?' सवाल पर जवाब देते हुए कहा, 'मैं सोचता हूं, मैं कहना चाहूंगा कि मोदी की तरह उप पर परिवार का बोझ नहीं है। नीतीश कुमार वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे हैंं लेकिन उनके संपर्क में अाने वाले ज्यादातर पत्रकार कहते हैं कि वो सांप्रदायिक नहीं हैं। महिला अधिकारों पर उनका विशेष ध्यान भारतीय राजनेताआें में अपवाद गुण है। उनकी एेसी चीजें ही आकर्षित करती हैं, लेकिन वस्तुनिष्ठ ढंग से सोचने पर लगता है कि वो एक एेसे भारतीय राजनेता हैं जिससे मुझे सहानुभूति है, लेकिन शायद उनका कोर्इ भविष्य नहीं है बशर्ते कांग्रेस उन्हें अध्यक्ष बनने के लिए न्योता न दे, क्योंकि एेसे में बगैर पार्टी वाला एक नेता बैगर नेता वाली एक पार्टी को अपने हाथ में ले लेगा।'


नीतीश की छवि से समझौता नहीं

जदयू महासचिव केसी त्यागी ने पत्रिका से बातचीत में कहा कि तेजस्वी पर जो आरोप लगे हैं उस पर उन्हें सफार्इ देनी होगी। सीएम नीतीश जिस तरह से शासन चला रहे हैं उससे उनकी छवि विकास पुरुष की है। अगर छवि पर धब्बा लगता है तो पार्टी का गठबंधन में रहने का कोर्इ अर्थ नहीं है।



उधर, तीन मामलों में लालू की कोर्ट में पेशी

अरबों रुपए के बहुचर्चित चारा घोटाले के तीन अलग-अलग तीन मामलों में राष्टीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव गुरुवार को रांची के सीबीआर्इ कोर्ट में पेश हुए।



जदयू की नर्इ रणनीति

सीएम नीतीश आैर जदयू तेजस्वी यादव प्रकरण पर राजद की जिद के आगे झुकने को तैयार नहीं है। नीतीश के एक करीबी मंत्री ने कहा कि तेजस्वी को इस्तीफा तो देना ही पड़ेगा, गठबंधन रहे या जाए। वहीं जेडीयू प्रवक्ता केसी त्यागी ने कहा कि महागठबंधन हमारा बेबी है, इसे खत्म करना आसान नहीं।

rajasthanpatrika.com

Bollywood