मारुति फैक्ट्री हिंसा: कोर्ट ने सुनाई 13 दोषियों को उम्रकैद, 4 को पांच साल जेल की सजा

Patrika news network Posted: 2017-03-18 18:04:38 IST Updated: 2017-03-18 18:04:38 IST
मारुति फैक्ट्री हिंसा: कोर्ट ने सुनाई 13 दोषियों को उम्रकैद, 4 को पांच साल जेल की सजा
  • कंपनी ने कम कीमत वाले कुछ अस्थायी कर्मचारियों की भर्ती कर ली थी, जिसके विरोध में कंपनी के कर्मचारी हड़ताल करने लगे। 18 जुलाई को यह हड़ताल हिंसक हो गई।

नई दिल्ली।

2012 में मारुति सुजुकी फैक्ट्री में हुई हिंसा के मामले में हरियाणा कोर्ट ने शनिवार को सभी दोषियों को सजा सुना दी है। कोर्ट ने 13 दोषियों को आजीवन कारावास, 4 को पांच साल की जेल और अन्य 14 को भी जेल की सजा मुकर्रर की है। 



बता दें कि 10 मार्च को हरियाणा की गुड़गांव जिला अदालत ने 31 आरोपियों को दोषी करार दिया था जबकि 117 को बरी कर दिया था। मामले की सुनवाई गुड़गांव के अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश आरपी गोयल कर रहे थे।

ये था मामला

18 जुलाई 2012 को श्रमिकों के प्रदर्शन के दौरान मारुति सुजुकी के जनरल मैनेजर (HR) अवनीश देव की मौत हो गई थी। तब आरोप लगे थे कि उन्हें जिंदा जलाकर मारा गया था। हिंसा में कई लोग घायल भी हुए थे। घटना के बाद करीब 100 प्रबंधकों को अस्पताल में भर्ती करना पड़ा था। हिंसा के बाद मारुति के मानेसर प्लांट को एक महीने के लिए बंद करना पड़ा था। 


इसलिए भड़की हिंसा

कंपनी ने कम कीमत वाले कुछ अस्थायी कर्मचारियों की भर्ती कर ली थी, जिसके विरोध में कंपनी के कर्मचारी हड़ताल करने लगे। 18 जुलाई को यह हड़ताल हिंसक हो गई।

rajasthanpatrika.com

Bollywood