Breaking News
  • धौलपुर: एपीपी ने जज से की शिकायत, कलक्टर दे रहीं धमकी
  • नागौर- कुचामन सिटी में बाइक और ट्रक की टक्कर, युवक की मौत
  • भरतपुर- इब्राहिमका बास गांव में झोपड़ी में लगी आग, 2 साल के बच्चे की मौत
  • हनुमानगढ़-न्यायिक अभिरक्षा में भेजे गए चोरी के दो आरोपी
  • पाली- शादी में डीजे बजाने के नाम पर रिश्वत लेते कोतवाली थाने के रामाराम जाट को पकड़ा, एसीबी की कार्रवाई
  • जयपुर- चाकसू बायपास पर कार की टक्कर से बाइक सवार की मौत
  • बीकानेर- तेहनदेसर गांव में युवक ने पेड़ से लटक कर दी जान
  • बीकानेर से चार नाबालिग लड़कियां गायब, घर से स्कूल के लिए निकली थी
  • हनुमानगढ़ - भादरा कस्बे में ग्राम छानीबड़ी में 6 जुआरी गिरफ्तार
  • जोधपुर- झडासर गांव में कच्चे पड़वे में लगी आग, हजारों का सामान जलकर खाक
  • जयपुर : विधिक सेवा प्राधिकरण की टीम ने SMS के बांगड़ अस्पताल ​के रैन बसेरे का किया दौरा
  • राजस्थान के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों की पोशाक तय, शिक्षा सत्र 2017-18 की पोशाक के लिए निर्देश जारी
  • जोधपुर : युवक की पिटाई के मामले में थानेदार पर एफआईआर दर्ज, एसीपी करेंगे जांच
  • धौलपुर : चलती बाइक में लगी आग, बाल-बाल बचे तीन सवार
  • सूरतगढ़ : बाजार में बिजली के खंभे से टकराई कार, बड़ा हादसा टला
  • बीकानेर : किस्तुरिया गांव के पास दो ट्रकों की टक्कर के बाद लगी आग, एक जिंदा जला
  • भीलवाड़ा : एक ही परिवार के चार जनों ने खाया जहरीला पदार्थ, चिक‍ित्‍सालय में भर्ती मां ने दम तोड़ा
  • रोहट (पाली) : जैन मोहल्ले में घर में घुसा चोर, ग्रामीणों ने पकड़ पुलिस को सौंपा
  • जयपुर : पायलट ने की कोटा मामले की न्यायिक जांच की मांग, डूडी ने सरकार को घेरा
  • उदयपुर : मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय में मार्च में शुरू होगा प्रदेश का पहला एयर कैफे
  • राजसमंद : श्रीनाथ ट्रेवल्स परमिट मामले में आरटीओ ने धांधली की बात मानी
  • सीकर : खाटूवासियों ने चढ़ाया बाबा श्याम को निशान
  • जैसलमेर : नहरों में पानी छोड़ने के बाद किसानों का धरना समाप्त
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

रिपोर्ट में खुलासा, नोटबंदी से पहले मोदी सरकार के कई मंत्रियों के पास था ढेर सारा कैश

Patrika news network Posted: 2016-12-02 14:55:10 IST Updated: 2016-12-02 16:49:46 IST
रिपोर्ट में खुलासा, नोटबंदी से पहले मोदी सरकार के कई मंत्रियों के पास था ढेर सारा कैश
  • नोटबंदी से कुछ महीनों पहले मोदी सरकार के कई मंत्रियों के पास ढेर सारा कैश था। कॉमनवेल्थ ह्मूमन राइट्स इनिश्येटिव ने अपनी रिपोर्ट में यह दावा किया है।

जयपुर

नोटबंदी से कुछ महीनों पहले मोदी सरकार के कई मंत्रियों के पास ढेर सारा कैश था। कॉमनवेल्थ ह्मूमन राइट्स इनिश्येटिव ने अपनी रिपोर्ट में यह दावा किया है।


मंत्रियों की ओर से प्रधानमंत्री कार्यालय को दी गई जानकारी के आधार पर रिपोर्ट में यह बात कही गई है।


नोटबंदी के बाद आधार कार्ड वालों की बल्ले बल्ले


आपको बता दें कि मंत्रियों के लिए बने हुए कोड ऑफ  कंडेक्ट के हिसाब से उन्हें अपनी जायदाद और नकदी का ब्योरा वार्षिक तौर पर प्रधानमंत्री को देना होता है। 


घर पर रखे सोने पर सरकार ने दी बड़ी राहत, अब महिला-पुरुष के सोना रखने की हुई लिमिट तय


हालांकि मोदी सरकार के 76 में से 40 ही मंत्रियों ने यह बताया कि उनके पास कितना कैश है। 


रिपोर्ट के अनुसार, 31 मार्च 2016 को सबसे ज्यादा पैसा वित्त मंत्री अरुण जेटली से पास (65 लाख रुपए से ज्यादा की नकदी) था।


जेटली के बाद दूसरे नंबर पर राज्य मंत्री श्री प्रसाद येसो नायक और तीसरे नंबर पर हंसराज अहीर थे। नायक के पास 22 लाख रुपए थे और अहीर के पास 10 लाख रुपए नकद थे।  इस रिपोर्ट के मुताबिक़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास 89,700 रुपए कैश थे।


डॉलर नहीं ये हैं दुनिया के 10 सबसे महंगे नोट, मिल गया तो भर जाएगी जेब


23 मंत्री ऐसे थे जिनके पास दो लाख से कम की नकदी थी। वहीं 15 ऐसे थे जिनके पास 2.5 लाख रुपए थे। 



परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और  उमा भारती समेत कई ने जानकारी नहीं दी। 


नोटबंदी को लेकर आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल से मिलेगी पीएसी


नोटबंदी के फैसले के बाद नरेंद्र मोदी ने पार्टी के सभी विधायकों और सांसदों से 8 नवंबर से 31 दिसंबर तक की बैंक डीटेल मांगी थी। जानकारी 1 जनवरी तक जमा करवानी है। 


सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है नए 1000 रुपए के नोट की तस्वीर, आपने देखा क्या


मालूम हो कि भाजपा ने बिहार और राजस्थान की कुछ जगहों पर नोटबंदी से कुछ दिन पहले जमीन खरीदी थी। उन सौदों पर विपक्ष ने सवाल खड़े किए गए हैं।

rajasthanpatrika.com

Bollywood