भारत-नेपाल सीमा पर हिंसक झड़प, तीन पुलिसकर्मी समेत दर्जन भर भारतीय घायल

Patrika news network Posted: 2017-03-10 18:19:21 IST Updated: 2017-03-10 18:19:21 IST
भारत-नेपाल सीमा पर हिंसक झड़प, तीन पुलिसकर्मी समेत दर्जन भर भारतीय घायल
  • इस वजह से जब पानी की मात्रा कम हुई तो ध्वस्त बांध का पुनर्निर्माण कार्य शुरु किया गया। लेकिन बांध के पुनर्निर्माण की वजह से दोनों तरफ के लोग आमने सामने आ गए।

सुपौल।

बिहार के सुपौल जिले के निर्मली अनुमंडल स्थित भारत-नेपाल सीमा पर हिंसक झड़प होने से 3 पुलिस जवान सहित दर्जनों भारतीय नागरिक घायल हो गए हैं। इसके बाद अभी भी दोनों तरफ से तनाव बढ़ा हुआ है। सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया है।


गौरतलब है कि कुनौली बॉर्डर पर अवस्थित ध्वस्त नोमेंस लेंड सह सुरक्षा बांध के पुनर्निर्माण को लेकर दोनों देशों के लोगों के बीच हिंसक झड़प हो गई। नेपाली नागरिकों ने भारत पर विस्तारवाद का आरोप लगा कर नारेबाजी शुरू की। प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर दोनों देशों के सीमा पर आवाजाही बंद कर दी है। इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई है। एसएसबी फोर्स सीमा पर पहुंच गई है। वहीं, मुख्यालय से डीएम और एसपी भी नेपाल बॉर्डर रवाना हो चुके हैं।

बता दें कि नेपाल में लगातार हुए मूसलाधार बारिश के कारण नेपाल से आनेवाली खारो नदी उफना गई और इसके चपेट में आकर गत 23 जुलाई को कुनौली बॉर्डर पर नोमेंस लैंड बांध ध्वस्त हो गया। इससे सुपौल जिले के सीमावर्ती कुनौली, डगमारा, कमलपुर सहित दर्जनों गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया था और भारतीय प्रभाग के हजारों एकड़ में लगे फसल भी बर्बाद हो गए। 


इस वजह से जब पानी की मात्रा कम हुई तो ध्वस्त बांध का पुनर्निर्माण कार्य शुरु किया गया। लेकिन बांध के पुनर्निर्माण की वजह से दोनों तरफ के लोग आमने सामने आ गए। 


भारतीय लोगों की भीड़ देखकर नेपाली लोग भड़क गए और भारतीय नागरिकों एवं निर्माण में लगे मजदूरों पर जमकर पत्थरबाजी करने लगे। इसके विरोध में भारतीय प्रभाग के लोगों ने भी ईंट का जवाब पत्थर से देना शुरु कर दिया और मामला उग्र रुप अख्तियार कर लिया।

rajasthanpatrika.com

Bollywood