अब बाबा रामदेव की पतंजलि बैलों से पैदा करेगी बिजली, बालकृष्ण के पहल के बाद शोध कार्य शुरु

Patrika news network Posted: 2017-05-15 16:42:54 IST Updated: 2017-05-15 16:42:54 IST
अब बाबा रामदेव की पतंजलि बैलों से पैदा करेगी बिजली, बालकृष्ण के पहल के बाद शोध कार्य शुरु
  • इस शोध कार्य में देश की प्रमुख ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर कंपनी के अलावा तुर्की की एक कंपनी भी शामिल है।

नई दिल्ली।

देशभर में पतंजलि उत्पादों के जरिए बाबा रामदेव अपनी साख मजबूत करने के बाद अब कुछ नया करने जा रहे हैं। जिससे देश की प्रगति तेजी से हो सके। खबर के मुताबिक बाबा रामदेव और उनके सहयोगी आचार्य बालकृष्ण पिछले कुछ सालों से बुल पावर पर काम कर रहे हैं। यानि पतंजलि कंपनी अब बैल के जरिए बिजली पैदा करने को लेकर शोध कार्य में जुटी हुई है। 


PM मोदी बोले- नदी संरक्षण पुण्य का काम, दायित्वों को निभाए बिना मानव अस्तित्व की रक्षा नहीं हो सकती


इकोनॉमिक्स टाइम्स के खबर के मुताबिक, बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने रिन्युएबल एनर्जी के एक अनूठे प्रयोग के रुप में बैलों से बिजली बनाने में जुटी हुई है। जहां बैलों की ताकत का इस्तेमाल कर बिजली पैदा की जाएगी। तो वहीं इसके पीछे कंपनी पतंजलि का मकसद यह है कि ऐसा कर वह पशुओं को बूचड़खानों में भेजे जाने से रोक सके। 



इस शोध कार्य से जुड़े एक व्यक्ति ने बताया कि एक टर्बाइन वाले इस डिजाइन से अभी तक लगभग 2.5 किलोवॉट पावर पैदा हो पाया है। इस शोध कार्य को पतंजलि के मैनेजिंग डायरेक्टर बालकृष्ण के एक पहल के बाद शुरु की गई है। जिसमें देश की प्रमुख ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर कंपनी के अलावा तुर्की की एक कंपनी भी शामिल है।


नीतीश ने 2019 में PM की दौड़ से खुद को बताया अलग, बोले-मोदीजी में क्षमता दिखी, इसलिए वे प्रधानमंत्री


एक इंटरव्यू में बालकृष्ण ने कहा कि बैल से बिजली पैदा करने के पीछे उनका मकसद केवल इतना है कि गरीब लोगों को भी बिजली सके, जो बिजली पर पैसा खर्च नहीं कर पाते हैं। साथ ही बैलों को कटने से बचाया जा सके। उनका कहना कि सुबह बैलों से खेतों में काम लिया जाता है। उसके बाद शाम को उनसे बिलजी उत्पादन के काम में लगाया जाता है। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood