Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

2017 में इन राज्यों में होंगे चुनाव, मुश्किल इम्तिहान में PM मोदी पास होंगे या फेल?

Patrika news network Posted: 2017-01-02 10:42:49 IST Updated: 2017-01-02 10:46:27 IST
2017 में इन राज्यों में होंगे चुनाव, मुश्किल इम्तिहान में PM मोदी पास होंगे या फेल?
  • उत्तरप्रदेश में सपा की सरकार है। मणिपुर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कांग्रेस की सरकार है। कांग्रेस को अपने तीनों राज्य बचाने की चुनौती होगी।

समीर चौगांवकर

जयपुर. 2017 का साल चुनावों का साल भी रहने वाला है। 2017 में 7 राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। वर्ष की शुरुआत में जिन राज्यों में चुनाव होंगे उसमें उत्तरप्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा शामिल हैं वहीं 2017 के अंत में गुजरात और हिमाचल प्रदेश में चुनाव होंगे। 7 राज्यों की  कुल 940 विधानसभा सीटों के अलावा राज्यसभा की 10 सीटों के लिए 2017 में चुनाव होंगे। 



गोवा की एक, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष शाह के राज्य गुजरात की 3 सीटों और बंगाल की 6 सीटों पर राज्यसभा के लिए चुनाव होंगे। केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और सोनिया के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल का राज्यसभा कार्यकाल भी इसी साल अगस्त को खत्म हो रहा है। 




इसके अलावा मुम्बई महानगर पालिका के भी 2017 में चुनाव होने वाले हैं। जिन सात राज्यों में चुनाव होने वाले हैं, उसमें से सिर्फ गुजरात और गोवा ही ऐसे राज्य हैं जहां भाजपा अपने दम पर सत्ता में है। पंजाब में भाजपा अकालियों के साथ भागीदार है। 



17 बच्चों के जन्म के बाद नसबंदी के लिए तैयार हुए गुजराती दंपती, आखिरी संतान की जन्मतिथि भी नहीं याद



उत्तरप्रदेश में सपा की सरकार है। मणिपुर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कांग्रेस की सरकार है। कांग्रेस को अपने तीनों राज्य बचाने की चुनौती होगी वही भाजपा के सामने गुजरात, गोवा को बरकरार रखने के साथ सबसे बड़े प्रदेश उत्तरप्रदेश को हथियाने के साथ ही हिमाचल और उत्तराखंड से कांग्रेस को बेदखल करने की होगी। 



उत्तरप्रदेश

सीटें-403

सत्ता में समाजवादी पार्टी

मोदी इस राज्य से सांसद है। देश के सबसे बड़े इस राज्य में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी अतंर्कलह से त्रस्त है। राम के नाम पर इस राज्य में सत्ता का स्वाद चख चुकी भाजपा अब मोदी के विकास के दम पर और बसपा दलितों और मुसलमानों के दम पर सत्ता पाने का दम भर रही है। इन पिछले दिनों सपा की अंदरुनी कलह खुलकर सामने आई।



उत्तराखंड

सीटें-70

सत्ता में कांग्रेस

हरीश रावत के लिए सत्ता बचाना चुनौती। पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के अपने समर्थक विधायकों के साथ भाजपा का दामन थामने के बाद कांग्रेस के लिए राह आसान नहीं। भाजपा में भी 5 से ज्यादा मुख्यमंत्री के दावेदार होने के बाद भीतरघात की हाईकमान को आशंका। राज्य में कांग्रेस को दरकिनार करके सत्ता हासिल करना भाजपा के लिए बड़ी चुनौती होगी।



देखिए क्रिकेटर शमी की पत्नी की खूबसूरत तस्वीरें, कट्टरपंथी दे चुके हैं नसीहत- बुर्के में रहो



पंजाब

सीटें-117

सत्ता में भाजपा-अकाली 

लगातार दूसरी बार सत्ता में आए भाजपा-अकाली गठबंधन को सत्ता बरकरार रखना मुश्किल। लोकसभा में इसी राज्य से 4 सांसद जीतने वाली आम आदमी पार्टी भी सत्ता की दौड़ में। सिद्धू के साथ के बाद कांग्रेस सत्ता की दौड़ में सबसे आगे। राज्य में सिद्धू के कांग्रेस में शामिल होने से स्थिति और भी उलझी हुई लग रही है। फिलहाल चुनावी तस्वीर स्पष्ट नहीं।



मणिपुर

सीटें-60

सत्ता में कांग्रेस

पूर्वोत्तर के इस छोटे से राज्य में कांग्रेसी इबोबी सरकार की वापसी की पूरी संभावना। नए जिले बनाकर इबोबी ने बड़ा दांव चल कर फिलहाल बढ़त बना ली है। भाजपा भी मोदी और बोबी के विरोधी विधायकों के दम पर सत्ता पाने की कोशिश में।



गोवा

सीटें-40

सत्ता में भाजपा

मनोहर पर्रिकर के केन्द्र में आने और संघ के सुभाष वेलिंगकर के विद्रोह के बाद भाजपा के लिए सत्ता बनाए रखना चुनौती से कम नहीं। 'आप' की बढ़ती ताकत भी सभी दलों के लिए परेशानी का सबब।



कैफ ने ट्विटर पर डालीं सूर्य नमस्कार की तस्वीरें, कहा- इस दौरान मेरे मन में था अल्लाह, भड़के कट्टरपंथी



गुजरात

सीटें-182

सत्ता में भाजपा

गुजरात छोड़कर दिल्ली आ चुके मोदी और शाह के रणनीतिक कौशल की असली परीक्षा इसी गुजरात चुनाव में होगी। प्रदेश में मोदी और शाह की अनुपस्थिति में पहला विधानसभा चुनाव। आनंदीबेन को हटाकर रूपानी को कमान सौंपना चुनावी रणनीति का हिस्सा। पटेलों और दलितों को साथ बनाए रखने की भी चुनौती। कांग्रेस पाटीदारों-दलितों को साधकर मोदी और शाह को झटका देने की कोशिश में। आप तीसरी ताकत बनने की फिराक में।



हिमाचल प्रदेश

सीटें-68

सत्ता में कांग्रेस

भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के लिए सत्ता बचाना कठिन चुनौती। भाजपा मुख्यमंत्री के भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कांग्रेस को घेरने की तैयारी में।




rajasthanpatrika.com

Bollywood