Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

उत्तराखंड में हुई चौंकानी वाली घटना, बिना इंजन के 30 किमी तक दौड़े ट्रेन के आठ डिब्बे, रेलवे की बड़ी चूक आई सामने

Patrika news network Posted: 2017-07-12 12:56:57 IST Updated: 2017-07-12 12:56:57 IST
उत्तराखंड में हुई चौंकानी वाली घटना, बिना इंजन के 30 किमी तक दौड़े ट्रेन के आठ डिब्बे, रेलवे की बड़ी चूक आई सामने
  • डिब्बों की चपेट में आकर आधा दर्जन बकरियों और गाय के एक बछड़े की मौत हो गई। डिब्बों के आगे चल रहा एक चालक रहित ट्रेक्टर भी घटना में चकनाचूर हो गया।

टनकपुर।

क्या कभी आप सोच सकते हैं कि कभी किसी ट्रेन के डिब्बे बिना इंजन के पटरी पर दौड़ सकते हैं।  यकीन करना मुश्किल है लेकिन हकीकत में ऐसा हुआ है।  चौंकाने वाला ये मामला सामने आया है उत्तराखंड में, जहां बिना इंजन के ट्रेन के आठ डिब्बे कई किलोमीटर तक पटरी पर दौड़ लगाते गए। 


जानकारी के मुताबिक़ ये अजीबो-गरीब घटना उत्तराखंड के चंपावत जिले में हुई है। सामने आया है कि यहां के टनकपुर रेलवे स्टेशन से खटीमा तक बिना इंजन के ट्रेन के आठ डिब्बे 30 किलोमीटर तक पटरी पर दौड़ते रहे। गनीमत ये रही कि इस घटना में कोई जनहानि नहीं हुई, हालांकि आधा दर्जन बकरियों और गाय के एक बछड़े को डिब्बों ने रौंद डाला।


रेलवे अधिकारियों के मुताबिक़ टनकपुर से उत्तर प्रदेश के मझौला के बीच 50 किलोमीटर की पटरियों पर कार्य चल रहा है। छोटी लाइन को बड़ा करने के लिए चल रहे निर्माण कार्य के कारण टनकपुर, चकरपुर, बनबसा और खटीमा रेलवे स्टेशन बंद हैं। 


अधिकारियों के मुताबिक़ निर्माण कंपनी की चूक के कारण यह हादसा हुआ है। पटरी निर्माण के कारण टनकपुर से खटीमा तक पडऩे वाले एक दर्जन से अधिक रेलवे फाटक खुले हुए थे लेकिन दिन का समय होने के कारण कोई बडी अनहोनी होने से बच गई।


ऐसे थमे बिन इंजन के डिब्बे 

डिब्बों की चपेट में आकर आधा दर्जन बकरियों और गाय के एक बछड़े की मौत हो गई। डिब्बों के आगे चल रहा एक चालक रहित ट्रेक्टर भी घटना में चकनाचूर हो गया। हालांकि, खटीमा पहुंचने के बाद लोहे के सामान से टकराने के बाद डिब्बे रुक गए। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood