चूहा हुआ बीमार तो मालिक ले गया अस्पताल, डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर दी नई जिंदगी

Patrika news network Posted: 2017-03-15 10:45:50 IST Updated: 2017-03-15 12:42:41 IST
  • मध्यप्रदेश के मुरैना में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें एक सफेद चूहे की जान बचाने के लिए उसका ऑपरेशन किया गया।

जयपुर

देवताओं में प्रथम पूज्य गणेशजी का वाहन चूहा (मूषक) है। चूहा एक छोटा-सा जीव है पर आमतौर पर लोग उसे पालना पसंद नहीं करते। घर या खेत में चूहे अधिक हो जाएं तो बहुत से लोग उन्हें मौत की नींद सुला देते हैं। वहीं मध्यप्रदेश के मुरैना में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें एक सफेद चूहे की जान बचाने के लिए उसका ऑपरेशन किया गया। ऑपरेशन के बाद चूहा एकदम स्वस्थ है।


कुछ समय से यह चूहा चलने-फिरने में असमर्थ था और कुछ भी नहीं खा रहा था। चूहे को पालने वाले दिनेश मुद्गल से यह परेशानी देखी नहीं गई और वे इसे लेकर पशुओं के पॉलीक्लिनिक पहुंचे। वहां सिविल सर्जन डॉक्टर त्यागी ने चूहे की जांच की। 


जांच के बाद पता चला कि चूहे के पेट में ट्यूमर है। डॉक्टर ने चूहे का ऑपरेशन कर 100 ग्राम का ट्यूमर निकाल दिया। सफल सर्जरी के बाद डॉक्टर त्यागी ने कहा कि चूहे की सर्जरी काफी क्रिटिकल थी। इतने छोटे जीव के शरीर से ट्यूमर निकालना काफी मुश्किल काम था।


चूहे के स्वस्थ होने के बाद दिनेश मुद्गल का पूरा परिवार बहुत खुश है। यह चूहा इस परिवार का लाडला है। दिनेश मुद्गल ने बताया कि जब वे इस चूहे को घर में लाए थे तो वह बहुत छोटा था। घर में ही वह बड़ा हुआ और परिवार के सदस्यों के साथ घुल-मिल गया। 



उन्होंने बताया कि चूहे को दूध, बिस्किट, गोभी के पत्ते, खीरा और पालक बहुत पसंद हैं। मुद्गल ने बताया कि वे चूहे को दिन में बिल्ली के डर से पिंजरे में रखते हैं लेकिन वह रात में घर में खुला घूमता है।

rajasthanpatrika.com

Bollywood