पुरुषों को भी हो सकता है स्तन कैंसर, जानिए कारण और लक्षण

Patrika news network Posted: 2017-05-17 13:57:01 IST Updated: 2017-05-17 14:00:34 IST
पुरुषों को भी हो सकता है स्तन कैंसर, जानिए कारण और लक्षण
  • पुरुषों को भी स्तन का कैंसर हो सकता है। हालांकि 400 पुरुषों में से केवल एक ब्रेस्ट कैंसर होने की संभावना होती है।

जयपुर

पुरुषों को भी स्तन का कैंसर हो सकता है। हालांकि 400 पुरुषों में से केवल एक ब्रेस्ट कैंसर होने की संभावना होती है। आप सोच रहे होंगे कि पुरुषों के ब्रेस्ट नहीं होते। ऐसे में उन्हें ब्रेस्ट कैंसर कैसे हो सकता है। बता दें कि महिला और पुरुष दोनों के ब्रेस्ट टिश्यू होते हैं। महिलाओं में कई तरह के हार्मोन्स की वजह से ये ब्रेस्ट टिश्यू बढ़कर पूरे ब्रेस्ट का रूप ले लेते हैं। पुरुषों में आमतौर पर ये ब्रेस्ट को बढ़ाने वाले हार्मोन नहीं होते हैं, इसलिए उनका सीना सपाट रह जाता है।


लक्षण

मेल ब्रेस्ट कैंसर का पहला केस पेरिस में रिकॉर्ड किया गया था। कैंसर की पहचान हो जाने के 5 साल के अंदर 83 फीसदी औरतों को जान का खतरा होता है वहीं 73 फीसदी पुरुषों की मौत हो सकती है। स्तन कैंसर केवल महिलाओं को होता है, ऐसी धारणा के चलते पुरुष इस बीमारी के लक्षणों पर ध्यान नहीं देते। अगर पुरुषों को लगता है कि उनके दोनों स्तनों के साइज में अंतर है या कोई सख्त गांठ जैसी है तो उन्हें तुरंत ही डॉक्टर के पास जाना चाहिए। 


वजह


रेडिएशन ट्रीटमेंट

अगर कोई आदमी अपने सीने पर लिम्फोमा जैसा रेडिएशन ट्रीटमेंट कराता है तो उसमें ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा काफी हद तक बढ़ जाता है।


शराब का सेवन

अधिक मात्रा में शराब पीने से भी पुरुषों में ब्रेस्‍ट कैंसर की संभावनाएं बढ़ जाती है। ये इसलिए भी क्‍योंकि इसकी वजह से लीवर पर असर होने लगत‍ा है।


बढ़ती उम्र

उम्र बढऩे की वजह से बढ़ती उम्र ये भी ब्रेस्‍ट कैंसर की एक वजह हो सकती है। जैसे जैसे पुरुषों की उम्र बढ़ती है वैसे वैसे उनमें ब्रेस्‍ट कैंसर को ले‍कर खतरा बढऩे लगता है। ज्‍यादातर मामलों में 68 साल की आयु के आसपास पुरुषों को मालूम चलता है कि उन्‍हें ब्रेस्‍ट कैंसर है।


फिमेल रिलेटिव्‍स हिस्‍ट्री

किसी महिला रिश्तेदार के ब्रेस्ट कैंसर से पीड़ित होने पर आपके लिए खतरा अधिक है। महिलाओं की ही तरह, पुरुषों को भी मां, दादी-नानी, बहन या खून के किसी रिश्ते वाली महिला के ब्रेस्ट कैंसर से पीड़ित होने पर इस बीमारी का खतरा ज्यादा होता है।


मुंह के छाले और पेट के रोग दूर करता आंवला


एस्‍ट्रोजन हार्मोन में वृ्द्धि

लीवर सिरोसिस की वजह से एस्ट्रोजन हार्मोन्स के स्तर में वृद्धि का कारण बनता है, और इससे ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। यही नहीं, हार्मोन एस्ट्रोजन से भरपूर पदार्थो का अत्यधिक सेवन या ऐसी दवाइयां जिनमें एस्ट्रोजन हो, वो जीन को सक्रिय बनाकर एस्ट्रोजन बढऩे का खतरा उत्पन्न कर सकती हैं।


प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं ये खास 5 सुपरफूड


ऑर्काइटिस मम्‍प्‍स 

ऑर्कइटिस जैसे अंडकोष के रोग, जिसमें पुरुष के एक या दोनों टेस्टिकल्स में मम्प्स वायरस के कारण सूजन हो जाती है, या अवांछित टेस्टिकल की वजह से भी पुरुषों में स्तन कैंसर का खतरा भी बढ़ा सकते हैं।


आपकी सेहत के लिए हानिकारक है ठंडा पानी पीना


क्लाइनफेल्टर सिंड्रोम

पुरुषों में स्तन कैंसर होने की संभावना उम्र बढऩे के साथ बढ़ती है, हालांकि युवा भी इसकी चपेट में आ सकते हैं। जिन लोगों को क्लाइनफेल्टर सिंड्रोम की समस्या है वे स्तन कैंसर के खतरे में ज्यादा आते हैं। क्लाइनफेल्टर एक तरह की जीन संबंधित बीमारी है जिसमें पुरुष में एक्स क्रोमोजोम की संख्या ज्यादा होती है। इस तरह के पुरुषों में स्तन कैंसर की संभावना 15 से 50 फीसदी तक ज्यादा होती है।

rajasthanpatrika.com

Bollywood