Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

Video: बस नाम का आदर्श विद्यालय

Patrika news network Posted: 2017-07-16 17:25:10 IST Updated: 2017-07-16 17:54:05 IST
  • शेरेकां के राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय में विद्यार्थियों के लिए बैठने के लिए एक भी कमरा नही, भीषण गरमी में खुले में बैठकर हो रही है पढाई

टिब्बी.

एक ओर तो केन्द्र व राज्य सरकार शिक्षा को बढावा देने के लिए पानी की तरह पैसा बहाने में संकोच नही कर रही है वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसे विद्यालय भी है जहां पर बच्चों के बैठने के लिए विद्यालयों में कमरे ही नही है।ऐसा ही एक बिना कमरों का विद्यालय टिब्बी तहसील के गांव शेरेकां में है।


श्रीमद्भागवत: भाव कुभाव अनख आलसहूं । नाम श्रपत मंगल दिसी दसहूं।।

वैसे तो राज्य सरकार ने शेरेकां के उच्च माध्यमिक विद्यालय को आदर्श विद्यालय घोषित कर रखा है लेकिन इस विद्यालय में आदर्श विद्यालयों जैसी कोई सुविधा बच्चों के लिए नही है। यहां तक कि इस विद्यालय में बच्चों के बैठने के लिए एक भी कमरा सही सलामत नही है।


Video: 2500 की आबादी वाले गांव में बैंक सुविधा नही

जिसके कारण पहली से लेकर 12 वीं तक की कक्षाएं बाहर खुले में पेडों के नीचे लगती है।चाहे भीषण गरमी हो या कडकडाती ठण्ड इस विद्यालय के विद्यार्थियों को खुले में बैठकर पढाई करनी पडती है।इस विद्यालय में फिलहाल 350 विद्यार्थी अध्ययनरत है।


Video: जिगर के टुकड़े की माटी लाने में ही खर्च हो गए साढे पांच लाख

rajasthanpatrika.com

Bollywood