Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

8 साल बाद प्रशंसकों से मिले रजनीकांत, कहा- ईश्वर ने चाहा तो राजनीति में जाऊंगा

Patrika news network Posted: 2017-05-15 13:18:03 IST Updated: 2017-05-15 13:18:43 IST
8 साल बाद प्रशंसकों से मिले रजनीकांत, कहा- ईश्वर ने चाहा तो राजनीति में जाऊंगा
  • रजनीकांत ने चेन्नई में अपने प्रशंसकों से कहा,"अगर ईश्वर ने चाहा तो भविष्य में मैं राजनीति में प्रवेश करूंगा। अगर मैं राजनीति में गया तो मैं बेहद ईमानदारी से काम करूंगा"। 8 साल के लंबे अंतराल के बाद सुपरस्टार रजनीकांत आज से 4 दिन तक लगातार अपने प्रशंसकों से मुलाकात करेंगे।

चेन्नई।

सुपरस्टार रजनीकांत ने सोमवार को कहा कि उनकी कोई राजनीतिक महत्वकांक्षा नहीं है, लेकिन अगर ईश्वर की ऐसी मर्जी हुई तो वह राजनीति में जाने के बारे में सोचेंगे। रजनीकांत ने चेन्नई में अपने प्रशंसकों से कहा, ''ईश्वर ही इस बात का फैसला करते हैं कि हम जिंदगी में क्या करेंगे। फिलहाल वह चाहते हैं कि मैं एक अभिनेता रहूं और मैं अपनी जिम्मेदारी निभा रहा हूं। अगर ईश्वर ने चाहा तो भविष्य में मैं राजनीति में प्रवेश करूंगा। अगर मैं राजनीति में गया तो मैं बेहद ईमानदारी से काम करूंगा और पैसे कमाने के लिए राजनीति में आने वालों का साथ नहीं दूंगा।"

हैप्पी बर्थडे: ब्लॉकबस्टर एक्ट्रेस, बॉलीवुड की 'धक-धक गर्ल' माधुरी दीक्षित की आज भी है दुनिया दीवानी

 

8 साल के लंबे अंतराल के बाद सुपरस्टार रजनीकांत  आज से 4 दिन तक लगातार अपने प्रशंसकों से मुलाकात करेंगे। रजनी से मिलने के लिए सुबह से ही उनके घर पर लंबी कतारें लगनी शुरू हो गयी हैं। प्रशंसकों से मिलने के दौरान रजनीकांत उन्हें संबोधित भी किया। कहा जा रहा है कि 66 वर्षीय अभिनेता अपने प्रशंसकों से कोई चर्चा नहीं करेंगे बल्कि उनके साथ सिर्फ तस्वीरें खिचवाएंगे। इस सिलसिले में संबद्ध प्रशंसक क्लबों को न्योता भेजा गया है ताकि 15 और 19 मई के बीच विभिन्न सत्र में वे शामिल हो सकें। गौरतलब है कि रजनीकांत पिछले महीने भी इसी तरह की मुलाकात करने वाले थे लेकिन उन्होंने इसे टाल दिया था। अपनी फिल्म 'शिवाजी' की सफलता के बाद आखिरी बार उन्होंने 2009 में प्रशंसकों से ऐसी मुलाकात की थी।


अभिनेता ने दो दशक पहले अपने राजनीतिक दखल को भूल करार दिया।  उल्लेखनीय है कि 1996 में तमिलनाडु विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान रजनीकांत ने जयललिता और उनकी राजनीति की निंदा की थी। माना जाता है कि उनकी टिप्पणियों के कारण जयललिता की बुरी तरह हार हुई थी।  उन्होंने कहा, ''मैंने 21 साल पहले एक राजनीतिक गठबंधन का समर्थन करके एक भूल की थी। वह एक राजनीतिक दुर्घटना थी। उसके बाद से नेताओं ने कई जगह मेरे नाम का गलत प्रयोग किया। लेकिन मैं किसी भी पार्टी में शामिल होने नहीं जा रहा।"

12वीं के रिजल्ट की चिंता को भूल जाइए, बॉलीवुड में ऐसे स्टार्स भी है 12वीं तक पास नहीं!

रजनीकांत ने अपने प्रशंसकों से सिगरेट और शराब से दूर रहने की अपील भी की। उन्होंने कहा, ''अपने परिवार और बच्चों का ध्यान रखें। सिगरेट और शराब के सेवन से अपनी जिंदगी बर्बाद न करें। इससे आपकी सेहत ही प्रभावित नहीं होती, बल्कि आपकी निर्णय लेने की क्षमता भी प्रभावित होती है। मैं खुद भी इससे बुरी तरह प्रभावित हो चुका हैं। इसलिए मेरी सलाह को गंभीरता से लें।"

rajasthanpatrika.com

Bollywood