इंटरव्यू... इंडियन आइडल एक ऐसा मंच है जो भारत को भारत से जोड़ता है : अनु मलिक

Patrika news network Posted: 2016-12-22 11:48:19 IST Updated: 2016-12-22 18:20:25 IST
इंटरव्यू... इंडियन आइडल एक ऐसा मंच है जो भारत को भारत से जोड़ता है : अनु मलिक
  • हमारा जो ऑडिशन राउंड होता है, गाला होता है। आप किसी सिंगर को जिनका आवाज नहीं होता है आप उनको ना नहीं कह सकते हैं। अगर हम उन्हें ऐसे बोले कि चलो तुम निकलो तो उनका दिल टूट जाएगा।

पुनित कुमार।

देश का पहला ऐसा रियलटी शो जिसने देश के चारो दिशाओं से हुनर को खोजकर, न केवल हिन्दुस्तान को एक सुरीली आवाज दी बल्कि न जाने कितने और रियलटी शो का आगाज भी किया। हम बात कर रहे हैं सोनी एन्टरटेनमेंट चैनल के फेमस शो इंडियन आइडल की। इंडियन आइडल एक बार फिर से अपने 9वें सीजन के साथ वापस लौट रहा है। शो में बतौर जज एक बार फिर से 12 साल बाद बॉलीवुड की मशहूर कोरियोग्राफर फराह खान, गायक सोनू निगम और अनु मलिक की तिकड़ी की वापसी हो रही है। हाल ही में मुंबई में शो के प्रमोशन लिए आइडल टीम के साथ पहुंचे बॉलीवुड के मशहूर संगीतकार अनु मलिक ने हमारे साथ शो को लेकर कुछ अहम बातें साझा की।


12 साल बाद आप तीनों इस शो में एक बार फिर बतौर जज की भूमिका में आ रहे हैं, ऐसे में इस बार क्या नया धमाल होने वाला है?


जवाब -सबसे खास बात तो ये है कि 12 साल बाद फिर से अनु मलिक, फराह खान और सोनू निगम एक साथ आ रहे हैं। जबकि यह शो 4 चार साल बाद आ रहा है। ये मेरा 7वां सीजन है मैं हर सीजन में रहा हूं। सबसे बड़ी बात मैं बतौर जज जो नोटिस कर रहा हूं, वो यह कि जिन बच्चों की उम्र 12 साल थी वो अब 25 या 26 साल के हो चुके हैं। इस शो से अब उनकी यादें जुड़ी हुई है। शो के दौरान हमें कुछ ऐसे बच्चें मिले हैं जो 12 साल से रियाज कर रहे हैं, और इस फिराक में थे कि हम इस शो में आएंगे। रियालिटी शो और भी हैं मगर इस बात को भूले नहीं कि ये एकमात्र ऐसा शो है, जिसने म्यूजिकल शो को पैदा किया हैं। इसके बाद तमाम म्यूजिकल शो शुरु हुए हैं।


क्या आप मानते हैं कि इन नवनिहालों के लिए आप एक बार फिर इस शो को ला रहे हैं?


जवाब -हम नहीं मानते। हमें 4 से 5 बच्चें ऐसे मिले जिन्होंने कहा कि सर हमें और शो में भी जाने का मौका मिल रहा था। लेकिन हमने सोचा कि हम इंडियन आइडियल में ही आएंगे। हमने पूछा क्यूं? जवाब में उन्होंने बताया कि, जब हम छोटे थे तो हमने पहली बार अनु मलिक को बोलते हुए देखा था, उनकी शयरी सुनी थी। और, हम इस फिराक में थे कि एक दिन हम भी अनु मलिक, सोनू निगम और फराह खान के पास आकर अपना गीत सुनाएंगे। ये बहुत बड़ी बात है।

हिन्दुस्तान एक विशाल देश है और कला से भरा हुआ देश है। मेरा मनाना है कि आप भोपाल, यूपी, राजस्थान कहीं भी जाओ, हमें इस शो में पूरे देश से टैलेंट मिला है। ये पहली बार हो रहा है कि हमें साउथ से भी टैलेंट मिल रहा है। ये साउथ जो हिन्दी जबान नहीं जानते  हैं, लेकिन जब ये हिंदी गाने गाते हैं तो हैरान हो जाता हूं मैं। ये मंच नहीं ये रिश्ता है जो भारत को भारत से जोड़ता है। हमारा एक ही लक्ष्य है कि हम अच्छा सिंगर खोजे।


इस शो में आप तीनों की क्या भूमिका रहेगी?


जवाब -फरहा प्रतिभागियों के अंदाज को देखती है। सोनू रियाज को क्योंकि वो रियाज का बड़ा पक्का है। मैं आवाज को देखूगां। फराह खान का मानना है कि प्रतिभागी टेक्निकल हो या ना हो लेकिन उनके परफॉमेंस ऐसी हो कि लोग झूम उठे।


ऑडिशन के समय लोकल स्तर पर प्रतिभागियों की हर छोटी से बड़ी बारिकियों को जज किया जाता है। फिर भी ऐसे लोग पहुंच जाते हैं जो बेसुरे होते, ऐसा कैसे हो जाता है। क्या आपको नहीं लगता है कि इससे आपका वक्त भी बर्बाद होता है?


जवाब -जवाब देना नहीं चाहता हूं पर मैं दे देता हूं। हमारा जो ऑडिशन राउंड होता है, गाला होता है। आप किसी सिंगर को जिनका आवाज नहीं होता है आप उनको ना नहीं कह सकते हैं। हम जज इसलिए ही बैठें हैं कि कॉमेडी वालों को सुनने के बाद बोलते हैं कि बहुत अच्छा लगा मजा भी आया लेकिन आप इंडियन आइडियल नहीं बन सकते हैं। हमें चाहिए एक नायाब आवाज। अगर हम उन्हें ऐसे बोले कि चलो तुम निकलो तो उनका दिल टूट जाएगा। वो बोलेंगे हम आए हैं सुनाने आप जज करो कि हम अच्छे हैं या बुरे।


आप जैसे मंजे हुए संजीदे कलाकार लाइव शो में इतने मजाकिया मूड में कैसे आ जाते हैं, इसके पीछे कोई खास वजह?


जवाब -हर इंसान के रोजमर्रा की जिंदगी में परेशानियां होती है। किसी को पैसे का टेंशन है तो किसी को पारिवारिक दुख है। जैसे- मान लीजिए एक रिक्शा वाला दिनभर का थका हारा जब अपने घर लौटता है तो ऐसे में वह टीवी खोलकर ऐसी चीज देखना पसंद करेगा जिससे उसे खुशी मिले। अब ऐसे में उसकी जिंदगी में दुख कम है क्या? जो वो रोने धोने वाला नाटक पसंद करेगा। इसलिए हम तीनों का उद्देश्य रहता है कि हम इस शो में जज़मेंट के साथ लोगों का मनोरंजन भी करें। जिससे उन्हे भी खुशी मिले और ऐसे करने से हमें भी खुद में खुशी महसूस होती है।


लोग आपके इस सीजन का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं तो उनके लिए कोई खास मैसेज?


जवाब -मैं कहना चाहता हूं कि ये सीजन उन लोगों की बचपन की यादों को ताजा करेगा, जिन्होंने हम तीनों को 12 साल पहले बतौर जज देखा था। क्यूंकि यह एक शो है जो भारत की चारों दिशाओं से आपको बहुत प्यारे सिंगर देने वाला है।


विजेता तो सभी होते हैं लेकिन एक कम्पलीट इंडियन आइडल किसे मानते हैं?


जवाब -मेरी नजर में एक कम्पलीट इंडियन आइडल ऐसा हो जो ना केवल अपनी आवाज हो बल्कि इस बदलते हुए हिन्दुस्तान में लोगों की आवाज को अपनी आवाज से सलामी दे। जो चीखकर अपनी आवाज से बताए कि मैं भी इंडियन आइडल हूं। जिसमें सुर के साथ अपना रियाज हो, अपना एक अलग अंदाज हो, जो किसी की कॉपी नहीं बल्कि उसकी खुद की आवाज हो।


इस फील्ड में करियर बनाने वाले नए गायको के लिए क्या कहना चाहते हैं?


जवाब -मैं नए कलाकारों को इतना कहना चाहता हूं कि अगर आप संघर्ष कर रहे हैं कुछ बनने के लिए और आपको निशाना का सामना करना पड़ रहा है। अगर आप जानते हैं कि आपके पास वो आवाज है तो आप हिम्मत ना हारे। और, जो लोग नाम कमा चुके हैं वो ये नहीं भूले कि इनके पीछे और भी नए –नए कलाकार आ रहे हैं तो अपनी पोजिशन को बनाए रखने के लिए रियाज करते रहिए, मेहनत करते रहिए। मैं समझता हूं कि हमारे सामने अच्छे-अच्छे कलाकार हैं और उनसे लड़ने के लिए और अच्छा बनना पड़ेगा और अधिक मेहनत करनी पड़ेगी।

rajasthanpatrika.com

Bollywood