Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

डूंगरपुर : कपड़ों पर गंदगी डालकर दो लाख से भरा बेग ले उड़ा उचक्का

Patrika news network Posted: 2017-07-12 13:32:17 IST Updated: 2017-07-12 13:32:39 IST
डूंगरपुर : कपड़ों पर गंदगी डालकर दो लाख से भरा बेग ले उड़ा उचक्का
  • शादी में लोगों से रुपए उधार लिया थे, उन्हें चुकाने के लिए ही खाते से राशि निकलवाई थी।

डूंगरपुर. सागवाड़ा.

सागवाड़ा थाने से मात्र 100 मीटर की दूरी पर मंगलवार दोपहर कपड़ों पर मैला डाल अध्यापक के दो लाख रुपए से भरा बेग उड़ा लेने का मामला सामने आया है।  ठाकरड़ा निवासी हाल वरदा उमावि में अध्यापक के पद पर कार्यरत दिव्यांग जीवतराम पुत्र लालाजी यादव मंगलवार दोपहर में टॉकिज गली में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया शाखा पर अपने खाते से दो लाख रुपए निकाल घर की ओर लौट रहा था।


बैंक से निकलकर मोबाईल रिचार्ज के लिए पंचायत समिति क्वार्टर के सामने स्थित मोबाईल दुकान पर पहुंचा। वहां रिचार्ज नहीं हुआ। पास ही खड़े एक अज्ञात व्यक्ति ने अध्यापक यादव से शर्ट के पीछे गंदगी लगी होने की बात कही। इस पर यादव पास में स्थित धुलजी यादव की दुकान पर गया। दरवाजे के पास प्लास्टिक की कुर्सी पर रुपए से भरा बेग व पास में मोबाईल रखकर हनुमान मंदिर के पास हेण्डपम्प पर गन्दगी साफ करने गया। कुछ समय में धुलजी यादव का लड़का भी गन्दगी साफ करने में सहयोग के लिए पहुंच गया।


गंदगी साफ कर जीवतराम यादव वापस दुकान पर पहुंचा तो कुर्सी पर बेग नहीं मिला। अज्ञात बदमाश मौका देखकर बेग लेकर फरार हो गया। मोबाइल कुर्सी पर पड़ा मिला। पीडि़त अध्यापक ने बताया कि जिस अज्ञात व्यक्ति ने शर्ट पर गंदगी होना बताया, वह बैंक में रुपए निकालते समय भी वहां मौजूद था। उसके साथ एक छोटा लड़का भी था।

यादव ने बताया कि कुछ समय पूर्व उसकी बेटी की शादी हुई थी। शादी में लोगों से रुपए उधार लिया थे, उन्हें चुकाने के लिए ही खाते से राशि निकलवाई थी। बेग में बैंक डायरी, एटीएम कार्ड, आधार कार्ड सहित कई अन्य महत्वपूर्ण कागजात थे।


गौरतलब है कि इसी प्रकार की घटना पूर्व में नगरपालिका के बाहर कोल्डड्रिंक की दुकान के पास में हुई थी। उसमें छोटे बच्चे के सहयोग से उच्चके ने घटना को अंजाम दिया था। पुलिस उस घटना कारित करने वालों तक नहीं पहुंच पाई। पूर्व में एसबीआई में केशियर के पीछे रखी रोकड़ अज्ञात बालक ले उड़ा था। बैंक के सीसीटीवी में स्पष्ट चेहरे आने के बाद भी पता नहीं चल पाया। यादव के घटना की जानकारी पुलिस को देने पर एएसआई पूंजीलाल छानबीन में जुटे हैं।

rajasthanpatrika.com

Bollywood