एनपीसीआई ने 15 करोड़ खातों को आधार संख्या से जोड़ा 

Patrika news network Posted: 2015-03-07 14:57:45 IST Updated: 2015-03-07 09:26:47 IST
एनपीसीआई ने 15 करोड़ खातों को आधार संख्या से जोड़ा 
  • खुदरा भुगतान क्षेत्र की अग्रणी कंपनी भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) ने 15 करोड़ बैंक खातों को आधार संख्या से जोड़कर नया रिकॉर्ड बनाया है। 

नई दिल्ली

खुदरा भुगतान क्षेत्र की अग्रणी कंपनी भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) ने 15 करोड़ बैंक खातों को आधार संख्या से जोड़कर नया रिकॉर्ड बनाया है। 

रिजर्व बैंक समर्थित एनपीसीआई ने जारी बयान में कहा है कि वह 30 जून से पहले प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) हासिल करने वाले 17 करोड़ लोगों के खातों को भी आधार संख्या से जोडऩे के लक्ष्य को प्राप्त करने के काफी नजदीक पहुंच गई है। शीघ्र ही डीबीटी के लाभाथिर्यों को इस कार्यक्रम तहत लाने की उम्मीद है। 

उसने कहा कि यह इलेक्ट्रॉनिक लाभ अंतरण कार्यक्रम विशिष्ट होने के साथ ही दुनिया के सबसे बड़े कार्यक्रमों में से एक है। 

गौतरलब है कि सरकार ने सब्सिडी के दुरपयोग और उसमें गड़बड़ी को रोकने और लागत में बचत के लिए डीबीटी कार्यक्रम की शुरूआत की है। 

सरकार ने डीबीटी योजना और देश में वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से पिछले साल प्रधानमंत्री जनधन योजना की शुरूआत की थी। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood