Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

video: गौरव पथ का निर्माण कार्य बंद होने से लोगों को करना पड़ रहा परेशानी का सामना

Patrika news network Posted: 2017-07-16 11:29:55 IST Updated: 2017-07-16 11:29:55 IST
  • कस्बे में गौरव पथ का निर्माण कार्य बंद होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। यहां राष्ट्रीय राजमार्ग से पुलिस थाने तक करीब पांच माह पूर्व गौरव पथ का निर्माण कार्य शुरू किया गया था।

देशनोक/नापासर/बीकानेर

कस्बे में गौरव पथ का निर्माण कार्य बंद होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। यहां राष्ट्रीय राजमार्ग से पुलिस थाने तक करीब पांच माह पूर्व गौरव पथ का निर्माण कार्य शुरू किया गया था। इस दौरान रास्ते को जेसीबी से खोद दिया था। इससे गहरे गड़्ढे बन गए थे। इन्हें बीच में छोड़ दिया गया है तथा पिछले 5 माह से निर्माण कार्य बंद है।

watch: #GST Video: जीएसटी के विरोध में अद्र्धनग्न प्रदर्शन कर कपड़ा कारोबारियों ने रोष जताया


इस गौरव पथ के रास्ते में कई होटल, धर्मशाला, रेलवे स्टेशन, डाक घर, करणीमाता मंदिर आदि हैं। दुकानदारों ने बताया कि  निर्माण कार्य बंद होने से आवागन में परेशानी का सामना करना पड़ता है। वहीं आंधी व बरसात के मौसम से हालत और भी खऱाब हो जाते हैं। इस रास्ते से दिनभर  देशनोक-बीकानेर रुट की बसें, दुपहिया वाहन व अन्य वाहनों का भी आवागमन रहता है। 



इन वाहनों के आवागमन से टूटी सड़क से बड़ा हादसा होने की आशंका रहती है। कई बार दुपहिया वाहन चालक गड्ढों में गिरकर चोटिल भी हो गए। इस बारे में कई बार सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों का ध्यान भी दिलाया लेकिन निर्माण कार्य पुन: शुरू नहीं होने से लोगों में रोष है। 



कोलायत युवा कांग्रेस के चिरागुदीन राठौड़, पालिका उपाध्यक्ष हेमंत भूरा, युवा नेता कैलाश बोरड, अनारदीन गौरी, पार्षद चांद मोहम्मद गौरी, जयसिंह रतनू, सुरेंद्र चौहान आदि ने सार्वजनिक निर्माण मंत्री, जिला कलक्टर व अन्य अधिकारियों को ज्ञापन देकर गौरव पथ का निर्माण कार्य शीघ्र शुरू कराने की मांग की।



छह महीने से कार्य बंद 

नापासर. कस्बे में फरवरी माह में एक करोड़ 85 लाख की लागत का शहरी गौरव पथ का कार्य चुंगी चौकी से सींथल बाइपास सिंगल सड़क के नवीनीकरण की योजना के तहत शुरू हुआ था लेकिन पुरानी सड़क के किनारों पर गड्ढे खोद दिए गए और कुछ ही दिनों में कार्य बंद हो गया। 



इससे यहां से आवागमन ठप हो गया। बाइपास सड़क के भारी यातायात का दबाव मुख्य बाजार व कस्बे की गलियों में होने से यातायात व्यवस्था को आज बेपटरी हुए छह महीने का समय हो गया है। प्रस्तावित गौरव पथ की सड़क पर जलदाय विभाग की पेयजल लाइनें व विद्युत निगम के पोल होने का रोड़ा बना है।



 इसके बाद ना तो अभी तक पेयजल लाइनें हटी है ना नही बिजली के पोल। सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से जलदाय विभाग व विद्युत निगम को लाइनें बदलने के कार्य के लिए बजट बनाकर जयपुर भेज देने की बात लम्बे समय से की जा रही है। इससे जनप्रतिनिधियों, विभाग व प्रशासन को कोई सरोकार नहीं है।

rajasthanpatrika.com

Bollywood