Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

कैमल सिटी कहलाएगा बीकानेर!...जिला पर्यटन विकास समिति की बैठक में प्रस्ताव

Patrika news network Posted: 2017-07-15 11:40:29 IST Updated: 2017-07-15 11:40:45 IST
कैमल सिटी कहलाएगा बीकानेर!...जिला पर्यटन विकास समिति की बैठक में प्रस्ताव
  • बीकानेर को कैमल सिटी के नाम से प्रचारित करने पर सहमति बनी। अब इस प्रस्ताव को केंद्र सरकार के पास भिजवाया जाएगा।

बीकानेर

जिला पर्यटन विकास समिति की बैठक कलक्ट्रेट सभागार में कलक्टर अनिल गुप्ता की अध्यक्षता में हुई, जिसमें बीकानेर को कैमल सिटी के नाम से प्रचारित करने पर सहमति बनी। अब इस प्रस्ताव को केंद्र सरकार के पास भिजवाया जाएगा। बाद में बीकानेर को कैमल सिटी के नाम से जाना जाएगा। 

read: पीबीएम अस्पताल में हर दिन मिल रही नई शिकायतें


कलक्टर ने बताया कि केंद्र सरकार के पर्यटन मंत्रालय की ओर से प्रत्येक जिले को विशेष पहचान का चुनाव कर ब्रांड के रूप में प्रचारित करने के लिए योजना बनाई गई है। कलक्टर ने कहा कि जिले में ऊंट बहुतायत में पाए जाते हैं। पर्यटन विभाग का पहला सालाना उत्सव बीकानेर में ही कैमल फेस्टिवल के नाम से होता है। 



एशिया का सबसे बड़ा उष्ट्र अनुसंधान केन्द्र बीकानेर में है और यहां की उस्ता कला भी विश्व प्रसिद्ध है। इन सभी विशेषताओं को देखते हुए बीकानेर को कैमल सिटी के रूप में प्रचारित किया जाए, ताकि नई पहचान कायम हो सके। 



कलक्टर ने करणी माता पैनोरमा के निर्माण  प्रगति की जानकारी ली। इसके संचालन, प्रबंधन एवं अनुरक्षण के लिए एसडीएम बीकानेर की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी इसके निर्माण कार्य का अवलोकन करेगी। इसके संचालन व प्रबंधन के लिए रूपरेखा तैयार करने के निर्देश दिए गए।



 बैठक में जिलेभर के पर्यटक स्थलों की साफ-सफाई पर चर्चा की गई। कलक्टर ने जूनागढ़ के सामने फूड स्टाल्स के पास सफाई की व्यवस्था करने और स्टाल्स संचालकों को कचरा पात्र रखने के लिए पाबंद करने और निर्देशों की पालना नहीं करने वाले संचालकों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए। 



इन बिंदुओं पर चर्चा

बैठक में बीकाजी की टेकरी से रामपुरिया हवेलियों तक शहरी क्षेत्र में पर्यटन की संभावनाओं को विकसित करने, कोलायत सरोवर को अधिक सुंदर बनाने और यहां तालाब के इतिहास से संबंधित साइनेज आदि लगाने, स्टेडियम की दीवारों, बस स्टैंड एवं मुख्य शहरों में पर्यटन दृष्टिकोण के भित्ति चित्र बनवाने, तीन दिवसीय बीकानेर महोत्सव मनाने सहित विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की गई। 



बैठक में एसडीएम नानूराम सैनी, पर्यटन सहायक निदेशक भारती नैथानी, तहसीलदार अशोक अग्रवाल, बीडीओ कैलाश चौधरी, पर्यटन अधिकारी पुष्पेंद्र सिंह, समिति सदस्य विनोद भोजक आदि उपस्थित थे।



हो पुख्ता व्यवस्था

जिला मेला समिति की बैठक में कलक्टर ने कहा कि करणी माता के नवरात्रा मेला, गणगौर मेला, मुकाम मेला, पूनरासर, कोडमदेसर, जसनाथ मेला, वीर बिग्गा और कोलायत मेले सहित अन्य मेलों के दौरान पुख्ता व्यवस्था की जाए। उन्होंने उपखंड अधिकारियों को मेलों से एक माह पूर्व व्यवस्थाओं के निर्धारण संबधी बैठक लेकर सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

rajasthanpatrika.com

Bollywood