Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

थानों के मालखाने बने पटाखों के गोदाम

Patrika news network Posted: 2017-07-13 11:31:29 IST Updated: 2017-07-13 11:31:29 IST
थानों के मालखाने बने पटाखों के गोदाम
  • पुलिस ने जिलेभर में अवैध पटाखा भंडारण व विक्रेताओं पर लगाम कसना शुरू दिया है, लेकिन जब्त किए गए पटाखेथानों में खतरे का सबब बन गए हैं।

बीकानेर.

सोनगिरी कुआं क्षेत्र के मोहल्ला डीडू सिपाहियान में शुक्रवार को अवैध पटाखा फैक्ट्री में हादसे के बाद पुलिस ने जिलेभर में अवैध पटाखा भंडारण व विक्रेताओं पर लगाम कसना शुरू दिया है, लेकिन जब्त किए गए पटाखेथानों में खतरे का सबब बन गए हैं। पुलिस पांच दिनों में लाखों रुपए के पटाखे जब्त किए हैं और अवैध रूप से पटाखे बेचने वाले 11 जनों को गिरफ्तार किया है।



 अब पुलिस थानों के मालखाने पटाखों के गोदाम नजर आने लगे हैं। इसलिए थानों में पटाखों को लेकर एहतिहात भी बरतनी होगी। पुलिस अधीक्षक सवाईसिंह गोदारा के निर्देश पर थाना पुलिस ने अवैध पटाखा भंडारण के खिलाफ कार्रवाई शुरू की है। इससे थानों में बारूद का ढेर जमा होने से खतरा भी बढ़ गया है। थानों में आगजनी की रोकथाम के पर्याप्त संसाधन भी नहीं है।



 ऐसे में पुलिस के लिए भी ये चुनौती बन गए हैं। रांगड़ी चौक व बड़ा बाजार में भी कार्रवाई कोतवाली पुलिस ने मंगलवार को रांगड़ी चौक में विजयचंद बोथरा की दुकान एवं महेन्द्र बोथरा और बड़ा बाजार में कांतिलाल बोथरा के घर से बड़ी संख्या में अवैध रूप से रखे पटाखों के कार्टन जब्त किए हैं। लूणकरणर पुलिस ने भी इलाके में पटाखों के अवैध गोदामों पर दबिश देकर बड़ी मात्रा में पटाखे जब्त किए। इससे पहले कोटगेट, जेएनवीसी, गंगाशहर, नयाशहर, नोखा और नापासर पुलिस भी भारी तादाद में पटाखे जब्त कर चुकी है। 


read : आज रात नौ बजे तक बंद रहेगी इंटरनेट सेवा, जिला कलक्टर ने आदेश जारी कर बढ़ाई अवधि


थानों का यह हाल

सूत्रों के अनुसार जेएनवीसी थाने में 65 कार्टन, गंगाशहर थाने में 100, नयाशहर थाने में 1000 पैकेट्स, नापासर थाने में 260 कार्टन और कोटगेट थान में करीब पांच कार्टन अवैध पटाखों के रखे हुए हैं। इसके अलावा लूणकरनसर, नोखा पुलिस ने भी अपने क्षेत्र से अवैध पटाखे जब्त किए हैं।



हादसे के बाद हुए सचेत

मोहल्ला डीडू सिपाहियान में सात जुलाई को अवैध पटाखा फैक्ट्री में आग लग गई थी। इस हादसे में सात लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 12 जने घायल हो गए थे। इसके बाद से जिला और पुलिस प्रशासन घनी आबादी क्षेत्र में पटाखों का अवैध भंडारण करने वालों के खिलाफ विस्फोटक अधिनियम के तहत कार्रवाई करने में जुटा है।



125 पैकेट्स पटाखे जब्त

बीकानेर शहर में पटाखा फैक्ट्री में आग से हुए नुकसान के बाद सतर्क हुई पुलिस ने लूणकरनसर में भी अवैध रूप से पटाखे बेचने व भण्डारण करने वाले दो जनों के खिलाफ कार्रवाई कर भारी मात्रा में पटाखे जब्त किए हैं। सीआई श्रवणदास संत ने बताया कि लूणकरनसर के पुराने बाजार में स्थित वार्ड 41 निवासी विमल राखेचा की दुकान से करीब 25 पैकेट पटाखे के जब्त किए गए। इनमें से कई पटाखे 120 से अधिक व तेज विस्फोट करने वाले खतरनाक श्रेणी के पाए गए। 



इसके अलावा वार्ड 23 निवासी चन्द्रप्रकाश पाण्डे के गोदाम से करीब 100 पैकेट पटाखे जब्त किए गए। दोनों जगहों पर पटाखों से होने वाले विस्फोट को रोकने के किसी प्रकार के माकूल सुरक्षा उपकरणों का अभाव था। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर 5/9 बी विस्फोटक अधिनियम 1884 के तहत मामला दर्ज किया गया।



न्यायिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद निस्तारण

जब्त किए गए पटाखों का निस्तारण न्यायिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद किया जाएगा। घनी आबादी में अनधिकृत रूप से पटाखों की बिक्री करने वाले व्यापारियों से जब्ती की कार्रवाई कर पटाखों को संबंधित थानों में रखवाया गया है। यह कार्रवाई जारी रहेगी।

नाजिम अली खान, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, शहर

rajasthanpatrika.com

Bollywood