Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

गिड़ा प्रधान की सुनने की बजाय भड़के प्रभारी सचिव, प्रधान उठकर रवाना

Patrika news network Posted: 2017-05-19 11:58:17 IST Updated: 2017-05-19 11:58:17 IST
गिड़ा प्रधान की सुनने की बजाय भड़के प्रभारी सचिव, प्रधान उठकर रवाना
  • - एडीएम ने वापिस बैठाया, सांसद ने कहा प्रधान की बात ठीक

बाड़मेर.

जनप्रतिनिधियों की बात को तसल्ली से सुनने के सरकारी आदेश की धज्जियां गुरुवार को यहां प्रभारी मंत्री की मौजूदगी में प्रभारी सचिव ने ही उड़ाई। गिड़ा प्रधान जनता की समस्या को बता रहे थे, तभी प्रभारी सचिव राजीव सिंह ठाकुर तमतमा गए और प्रधान को कहा कि फालतू बात मत करो, एेसा कुछ नहीं है। प्रधान ने कहा कि जब बात सुननी ही नहीं है तो फिर बैठक में बुलाते क्यों हों? फिर प्रधान बैठक छोड़ जाने लगे, लेकिन एमडीएम ने समझाइश कर वापस बिठाया। 


सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने बात को संभालते हुए कहा कि जनप्रतिनिधि ठीक कह रहे हैं, समाधान की दिशा में कार्य करें। यह वाकया जिला मुख्यालय पर गुरुवार को जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी व प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल की अध्यक्षता में आयोजित विकास योजनाओं की समीक्षा बैठक में हुआ। 


बैठक के दौरान गिड़ा प्रधान लक्ष्मणराम चौधरी ने कहा कि जिले में ऐसे कई गांव है जहां पर नेटवर्क नहीं होने से राशन डीलर पेड़ या मकान की छत पर चढ़कर पोस मशीन के लिए नेटवर्क तलाशते हैं। इस दरम्यिान दुर्घटना हुई तो जिम्मेदार कौन होगा? इस पर प्रभारी सचिव ठाकुर ने कहा कि आप फालतू बात मत करो आपकी ये बात सुनने को मैं यहां पर नहीं बैठा हूं।


सीएमएचओ ने कहा काम क्या करें, राजनीतिक दबाव आ जाता है

बैठक में सामने आया कि जिले में कहीं पर दो से तीन एएनएम है तो कहीं पर एक भी नहीं। प्रभारी सचिव ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से जवाब मांगा तो सीएमएचओ ने कहा कि जब भी किसी को हटाने का आदेश निकाला तो राजनीतिक दबाव आ जाता है। ऐसे में क्या कार्रवाई करूं। इस पर खूब ठहाके लगे। प्रभारी मंत्री ने आगामी बैठक में इस मामले में रिपोर्ट देने को कहा।


घरों के आगे बीपीएल क्यों नहीं लिखवाते?

सिवाना प्रधान गरिमा राजपुरोहित ने कहा कि कई घरों के आगे बीपीएल लिखा नहीं होने से बिल्डिंग के मालिक भी बीपीएल बनकर बैठे हैं। इसका या तो पुन: सर्वे किया जाएं या मकानों के आगे बीपीएल लिखवाओ। इस पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि जल्दी से मकानों के बाहर बीपीएल लिखवा देंगे। प्रधान ने रतेड़ी ग्रामसेवक की शिकायत की, इसकी जांच के आदेश प्रभारी मंत्री ने किए।


4 साल से पानी नहीं पहुंचा

बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने कहा कि नहर का मीठा पानी उपलब्ध होने के बाद भी गांवों में 4 वर्षों से पानी नहीं पहुंच रहा। विधान सभा में भी मुद्दा उठाया था ,तब भी आपने कहा कि कि जल्दी से काम हो जाएगा। आखिर कब तक पानी पहुंचेगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जल्दी से इस काम को शुरू किया जाएगा।


जिनके घर टूट गए वो कहां पर रहेंगे

पाटोदी प्रधान रशीदा बानो ने कहा कि सांभरा व साजियाली के माडपुरा में बरसात में कई घरों के छप्पर उड़ गए। कई लोग घायल हो गए कई पशु मर गए । तीन दिन बीतने के बाद भी उन परिवारों को कोई सहायता नहीं मिली। बिना छपरों के वो परिवार रहेंगे कहां? आखिर सरकार उनको कब मदद देगी? इस पर प्रभारी मंत्री ने कलक्टर को कहा कि इनके रहने के लिए किसी स्कूल या आंगनवाडी में व्यवस्था करवाओ।


आवास योजना में वंचितों को जोड़ो

सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2011 के सर्वे में कई लोग वंचित रह गए थे। इसलिए पुन: सर्वे करवाकर उनको योजना से जोड़ा जाए।

rajasthanpatrika.com

Bollywood