Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

Video : खुद सुनिए अलवर की निर्भया की दास्तां, कैसे किया मनचले का मुकाबला

Patrika news network Posted: 2017-05-19 21:33:48 IST Updated: 2017-05-19 21:33:48 IST
  • आठ भाई बहनों के परिवार में मुफलसी के कारण दूर खेड़े को छोड़कर अलवर में रोजी रोटी के लिए रह रही है। काम भी बस बारदाने के बोरे सीलने का। इस विपन्नता के बावजूद इस बेटी ने आत्मसम्मान नहीं खोया और अद्भुत साहस का परिचय दिया।

ज्योति शर्मा. अलवर.

यही निर्भया है। आठ भाई बहनों के परिवार में मुफलसी के कारण दूर खेड़े को छोड़कर अलवर में रोजी रोटी के लिए रह रही है। काम भी बस बारदाने के बोरे सीलने का। इस विपन्नता के बावजूद इस बेटी ने आत्मसम्मान नहीं खोया और अद्भुत साहस का परिचय दिया।


शुक्रवार को इस बेटी ने जिस साहस का परिचय दिया है वह देश की सभी बेटियों के लिए मिसाल है और बदमाशों के लिए सबक। पिछले कई दिनों से उसे परेशान कर रहे युवक ने सरेराह शहर के व्यस्ततम मन्नी का बड़ के यहां इसे जबरदस्ती अपने साथ चलने के लिए कहा।

Video : मौत से सामना : देश की बेटियों के लिए मिसाल बनी अलवर की निर्भया, खून बहता रहा नहीं हारी हिम्मत


निर्भया ने मना किया तो बदनियत से आए सिरफिरे ने आव देखा न ताव और झोले से बड़ा चाकू निकालकर उस पर हमला किया। देखने वाले देखते रहे गए।

rajasthanpatrika.com

Bollywood