Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

राजस्थान में स्टूडेंट्स की choice पर बनेंगे कोर्स, यूं मिलेगी उनको jobs

Patrika news network Posted: 2017-06-18 04:17:04 IST Updated: 2017-06-18 04:17:04 IST
राजस्थान में स्टूडेंट्स की choice पर बनेंगे कोर्स, यूं मिलेगी उनको jobs
  • सेल्फ फाइनेंसिंग स्कीम में होगा संचालन। कॉलेज को विद्यार्थियों से प्रस्ताव लेकर उनकी रुचि के अनुरूप चलाने पड़ेंगे पाठ्यक्रम।

रक्तिम तिवारी/अजमेर।

 विद्यार्थियों को रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से स्नातक और स्नातकोत्तर कॉलेज में सत्र 2017-18 से व्यावसायिक कोर्स चलेंगे। कोर्स सेल्फ फाइनेंसिंग स्कीम में चलाए जाएंगे।इसके लिए कॉलेजों को विद्यार्थियों की रुचि को ध्यान में रखते हुएउनसे प्रस्ताव लेने जरूरी होंगे।

मौजूदा समय प्रदेश के स्नातक और स्नातकोत्तर कॉलेज में कला, वाणिज्य, विज्ञान, विधि, सामाजिक विज्ञान से जुड़े पारम्परिक पाठ्यक्रम संचालित हैं। कुछ हद तक बैंकिंग-इंश्योरेंस, इंग्लिश स्पोकन और सटिफिकेट इन एकाउंटिंग जैसे लघु अवधि के कोर्स भी हैं, लेकिन इनका दायरा सिमटा हुआ है। 


प्रतिवर्ष हजारों विद्यार्थी स्नातक और स्नातकोत्तर डिग्री लेकर निकलते हैं। इनमें से 10-15 प्रतिशत को ही सरकारी-निजी फर्म में नौकरियां मिलती हैं। लिहाजा सरकार ने व्यावसायिक कोर्स प्रारंभ करने की योजना बनाई है।

विद्यार्थियों से लेने होंगे प्रस्ताव

उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने सभी कॉलेज प्राचार्यों को व्यावसायिक कोर्स प्रारंभ करने को कहा है। इसके तहत कॉलेज को विद्यार्थियों से ही कोर्स के प्रस्ताव लेने होंगे। उनकी अभिरुचि के अनुसार कोर्स से जुड़े संसाधन और शिक्षक जुटाने होंगे। यह व्यावसायिक कोर्स सेल्फ फाइनेंसिंग स्कीम के अन्तर्गत चलाए जाएंगे।

ऑनलाइन सर्टिफिकेट कोर्स का इंतजार

प्रदेश के 104 कॉलेज को ऑनलाइन सर्टिफिकेट कोर्स की शुरुआत का इंतजार है। कॉलेज शिक्षा निदेशालय ने कोई आदेश जारी नहीं किया है। निदेशालय ने गत वर्ष आईआईटी मुम्बई से अनुबंध किया था। इसके तहत कॉलेज विद्यार्थियों को फ्री ओपन सिस्टम सिस्टम सॉफ्टवेयर के माध्यम से पढ़ाई का अवसर मिलेगा। बीते छह महीने से इन कोर्स के बारे में आदेश जारी नहीं हुए है।

 इन कॉलेज में होंगे संचालित

यह कोर्स अजमेर के एसपीसी-जीसीए और राजकीय कन्या महाविद्यालय, ब्यावर, किशनगढ़, नसीराबाद, अलवर, बांसवाड़ा, बाड़मेर, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, शाहपुरा, बीकानेर, बूंदी, चित्तौडग़ढ़, मंडफिया, कोटा और अन्य कॉलेज में चलाए जाने हैं।

यह हो सकते हैं कोर्स

-इंश्योरेंस और बैंकिंग सर्टिफिकेट कोर्स

-इंग्लिशन स्पोकन सर्टिफिकेट कोर्स

-ह्यूमन रिसोर्स और रिटेल मैनेजमेंट

-सर्टिफिकेट इन एकाउन्टेंसी एंड टेक्सेशन

-विज्ञान, वाणिज्य और कला संकाय के विषयों से जुड़े लघु पाठ्यक्रम

rajasthanpatrika.com

Bollywood