Breaking News
  • चित्‍तौड़गढ़ : निम्बाहेडा में अवैध रुप से गोवंश ले जाते दाे ट्रक जब्‍त, एक ग‍िरफ्तार एक फरार
  • प्रतापगढ़:पानी और सफाई की मांग पर महिलाओं का गुस्सा फूटा, मिनिसचिवालय पर प्रदर्शन किया
  • चूरू: एसबीबीजे बैंक में अज्ञात ने बैग में चीरा लगाकर निकाले 50 हजार रुपए
  • जोधपुर:भोपालगढ़ की अरटिया कलां सरपंच के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज, सार्वजनिक चौक की जमीन की खुर्द बुर्द
  • अलवर: लूटपाट और दर्जनों ATM काटने में आरोपी को किया हथियार सहित गिरफ्तार
  • जयपुर:डोटासरा ने की विधायक मेघवाल, आनंदपाल और अन्य प्रकरणों की जांच सदन में रखने की मांग
  • जयपुर :अवैध सब्जी मंडी हटाने को लेकर वैशाली मार्ग पश्चिम व्यापार मंडल का प्रदर्शन
  • जयपुर: शाहपुरा में एम्बुलेंस और हरियाणा रोडवेज़ बस में भिड़ंत,आधा दर्जन लोग घायल
  • हनुमानगढ़: दहेज हत्या में पति और सास-ससुर को दस साल की सजा, गांव सलेमगढ़ मसानी का मामला
  • करौली: पांचना बांध में डूबने से दो जनों की मौत
  • पाली:जैतारण के गरनिया में वृद्धा के गले से सोने की कंटी लूटी
  • भीलवाड़ा: नाबाल‍िग से छेड़छाड़ के मामले मेें समुदाय व‍िशेष का युवक ग‍िरफ्तार
  • सवाईमाधोपुर: बाल कल्याण समिति से भागे बालक-बालिका
  • जोधपुर : टेकरा में डिस्कॉम के तकनीकी सहायक के साथ मारपीट, चिकित्सालय में भर्ती
  • जयपुर : योगा और प्राकृतिक चिकित्साधिकारी की होगी सीधी भर्ती, कार्मिक विभाग ने जारी की अधिसूचना
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

Search Results : spiritual story

वह शख्स प्रार्थना में भगवान से मांगता था ऐसी चीज जो आज तक किसी ने नहीं मांगी!

इस जिंदगी के विरोधाभास को जो समझ लेगा, उसने जीवन का सारा राज समझ लिया। दुख चुनौती है, विकास का अवसर है। यह अनिवार्य है। इसके बिना तुम जागोगे नहीं। कौन जगाएगा तुम्हें?

कलियुग में जिस इन्सान को नहीं दिखाई देता भगवान का ये वरदान, वह भोगता है दुख

भिखारी ने नोट को टटोलकर देखा और समझा कि किसी आदमी ने उसके साथ मजाक किया है क्योंकि आज से पहले किसी ने भी उसे इतना बड़ा नोट भीख में नहीं दिया था।

कलियुग में सज्जन हैं परेशान लेकिन पापी क्यों हैं सुखी? भगवान विष्णु ने बताया था यह कारण

धर्म पर चलने वालों को कोई अच्छा फल नहीं मिल रहा, जो पाप कर रहे हैं उनका भला हो रहा है देवर्षि नारद वैकुंठ धाम गए और श्रीहरि से कहा। प्रभु, बताइए यह कौन सा न्याय है?

भगवान से रखेंगे ऐसा रिश्ता तो कोई मुराद नहीं रहेगी अधूरी 

एक बार एक राजा प्रजा का हाल जानने के लिए अपने राज्य के एक गांव में घूम रहा था। अचानक उसके कुर्ते का बटन टूट गया

दिल में न हो ये बात तो नहीं हो सकते भगवान के दर्शन

आचार्य रामानुजाचार्य एक महान संत एवं संप्रदाय-धर्म के आचार्य थे। दूर-दूर से लोग उनके दर्शन एवं मार्गदर्शन के लिए आते थे।

Astrology

  • मेष

  • वृषभ

  • मिथुन

  • कर्क

  • सिंह

  • कन्या

  • तुला

  • वृश्चिक

  • धनु

  • मकर

  • कुंभ

  • मीन

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें