सरकार के नोटबंधी के फैसले को कालाधन रखने वालों और भ्रष्टाचारियों के साथ-साथ अब देश की आम गरीब जनता भी झेल रही है। गरीबों की मुसीबतें कम होने का नाम ही नहीं ले रही है। लोगों के पास अकाउंट में ख्खुद का पैसा होने के बाद भी वे परेशानियों को झेल रहे हैं। इस बात का जाहिर कर रही हैएक लाचार और मज़दूर व्यक्ति की व्यथा जो कैश के अभाव में दो दिनों से अपनी पत्नी का दाह-संस्कार नहीं करवा पाया। नोएडा का एक दिहाड़ी मज़दूर अपनी पत्नी के अंतिम संस्कार का इंतज़ार इसलिए करता रहा, क्योंकि बैंक में कैश न होने के कारण बैंक ने उसे पैसे देने से इंकार कर दिया।

Astrology

  • मेष

  • वृषभ

  • मिथुन

  • कर्क

  • सिंह

  • कन्या

  • तुला

  • वृश्चिक

  • धनु

  • मकर

  • कुंभ

  • मीन

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें