जयपुर. हमारे प्राचीन धार्मिक ग्रंथों में विभिन्न मंत्रों का उल्लेख किया गया है। आप जानते होंगे कि प्राय: ऊं के बिना कोई मंत्र-अनुष्ठान पूरा नहीं होता। कहा भी जाता है कि ऊं अतिसूक्ष्म मंत्र है जिसमें ब्रह्मा, विष्णु और भगवान शिव की शक्ति समाई है। ऊं की शक्ति को विज्ञान ने भी स्वीकार किया है। विभिन्न शोध बताते हैं कि ऊं के जाप से तन और मन की कई समस्याएं दूर रहती हैं। 



अगली स्लाइड्स में जानिए, क्या हैं ऊं की चमत्कारी शक्तियां और तन-मन पर क्या होते हैं इसके प्रभाव।



Astrology

  • मेष

  • वृषभ

  • मिथुन

  • कर्क

  • सिंह

  • कन्या

  • तुला

  • वृश्चिक

  • धनु

  • मकर

  • कुंभ

  • मीन

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें